Loading ...
Sorry, an error occurred while loading the content.

Remembering Chavez - Film show and discussion in Bhopal on 6th April

Expand Messages
  • Lokesh Malti Prakash
    ह्यूगो शावेज़ का असमय निधन, सिर्फ वेनेज़ुएला का ही नही, बल्कि
    Message 1 of 2 , Apr 4, 2013

     

    ह्यूगो शावेज़ का असमय निधन, सिर्फ वेनेज़ुएला का ही नही, बल्कि पूरी दुनिया की आम व मेहनतकश जनता के लिए अपूरणीय क्षति है। शावेज़ के नेतृत्व में वेनेज़ुएला की जनता ने यह साबित कर दिया कि प्रतिक्रियावादी-साम्राज्यवादी ताकतों के तमाम हमलों और दुष्प्रचार के बावजूद, हमारे दौर में प्रगतिशील, जनपक्षधर और मानवीय विकल्प का निर्माण संभव है और उसके लिए निर्णायक संघर्ष अवश्यंभावी। इस ऐतिहासिक तथ्य को बेहद ज़ोरदार तरीके से हमारे दौर के केंद्र में रखने वाले वेनेज़ुएला के जन-नायक ह्यूगो शावेज़ के सम्मान में और वेनेज़ुएला में जारी परिवर्तनों के महत्व को समझने के लिए शहीद शंकर गुहा नियोगी पुस्तकालय एवं सांस्कृतिक केंद्र (रामा आर्केड, गुलमोहर कॉलोनी, भोपाल) में शनिवार, 6 अप्रैल 2013 को दोपहर 3:30 बजे दो फिल्में दिखाई जाएंगी –

    -    ऑलिवर स्टोन की ‘साऊथ ऑफ़ द बॉर्डर’ (अवधि – 1 घंटा 18 मिनट)

    -    रिकार्डो रेस्ट्रेपो व जूलिया कपोन की ‘नाओ द पीपल हैव अवोकन – एक्सप्लोरिंग वेनेज़ुएलास रेवेल्यूशन’ (अवधि – 55 मिनिट)

    दोनों फिल्में हिंदी उप-शीर्षकों के साथ।

     

    फ़िल्मों के बाद खुली परिचर्चा होगी जिसमें वेनेज़ुएला की बोलिवारियन क्रांति से भारत के लिए मिलनेवाले सबक पर विचार किया जाएगा।

     

    तारीख – शनिवार, 6 अप्रैल 2013

    समय – दोपहर 3:30 बजे।

    स्थल – शहीद शंकर गुहा नियोगी पुस्तकालय एवं सांस्कृतिक केंद्र, पहली मंजिल, रामा आर्केड, गुलमोहर कॉलोनी (सेवॉय मार्केट के नजदीक), त्रिलंगा, भोपाल।

     

    आप सभी से निवेदन है कि इस आयोजन में शामिल हों और आम जनता तक इसकी सूचना पहुंचाने में भी भागीदारी करें।

     

    -    शहीद शंकर गुहा नियोगी पुस्तकालय एवं सांस्कृतिक केंद्र, भोपाल

     

  • Tushar Bhattacharjee
    Bhopal Tragedy ke upar zo v film bane chuke hai, us k DVD agar vez saketo achha maine karchha de dunga, kaoki Hamlog film show karte hai HUMAN RIGHTS k upar.
    Message 2 of 2 , Apr 5, 2013
    • 0 Attachment
      Bhopal Tragedy ke upar zo v film bane chuke hai, us'k DVD agar vez saketo achha maine karchha de dunga, kaoki Hamlog film show karte hai HUMAN RIGHTS k upar. Maito Bhopal Kolkata se zane nahee sakta.2 saal pahale gaye thhe.
      Tushar Bhattacharjee


      2013/4/5 Lokesh Malti Prakash <lokeshmaltiprakash@...>
       
      [Attachment(s) from Lokesh Malti Prakash included below]

       

      ह्यूगो शावेज़ का असमय निधन, सिर्फ वेनेज़ुएला का ही नही, बल्कि पूरी दुनिया की आम व मेहनतकश जनता के लिए अपूरणीय क्षति है। शावेज़ के नेतृत्व में वेनेज़ुएला की जनता ने यह साबित कर दिया कि प्रतिक्रियावादी-साम्राज्यवादी ताकतों के तमाम हमलों और दुष्प्रचार के बावजूद, हमारे दौर में प्रगतिशील, जनपक्षधर और मानवीय विकल्प का निर्माण संभव है और उसके लिए निर्णायक संघर्ष अवश्यंभावी। इस ऐतिहासिक तथ्य को बेहद ज़ोरदार तरीके से हमारे दौर के केंद्र में रखने वाले वेनेज़ुएला के जन-नायक ह्यूगो शावेज़ के सम्मान में और वेनेज़ुएला में जारी परिवर्तनों के महत्व को समझने के लिए शहीद शंकर गुहा नियोगी पुस्तकालय एवं सांस्कृतिक केंद्र (रामा आर्केड, गुलमोहर कॉलोनी, भोपाल) में शनिवार, 6 अप्रैल 2013 को दोपहर 3:30 बजे दो फिल्में दिखाई जाएंगी –

      -    ऑलिवर स्टोन की ‘साऊथ ऑफ़ द बॉर्डर’ (अवधि – 1 घंटा 18 मिनट)

      -    रिकार्डो रेस्ट्रेपो व जूलिया कपोन की ‘नाओ द पीपल हैव अवोकन – एक्सप्लोरिंग वेनेज़ुएलास रेवेल्यूशन’ (अवधि – 55 मिनिट)

      दोनों फिल्में हिंदी उप-शीर्षकों के साथ।

       

      फ़िल्मों के बाद खुली परिचर्चा होगी जिसमें वेनेज़ुएला की बोलिवारियन क्रांति से भारत के लिए मिलनेवाले सबक पर विचार किया जाएगा।

       

      तारीख – शनिवार, 6 अप्रैल 2013

      समय – दोपहर 3:30 बजे।

      स्थल – शहीद शंकर गुहा नियोगी पुस्तकालय एवं सांस्कृतिक केंद्र, पहली मंजिल, रामा आर्केड, गुलमोहर कॉलोनी (सेवॉय मार्केट के नजदीक), त्रिलंगा, भोपाल।

       

      आप सभी से निवेदन है कि इस आयोजन में शामिल हों और आम जनता तक इसकी सूचना पहुंचाने में भी भागीदारी करें।

       

      -    शहीद शंकर गुहा नियोगी पुस्तकालय एवं सांस्कृतिक केंद्र, भोपाल

       


    Your message has been successfully submitted and would be delivered to recipients shortly.